जिले के लोगों का अपमान कर रहे भाजपा अध्यक्ष

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। 15 साल तक मध्य प्रदेश में शासन सत्ता का सुख भोगने वाले भाजपाई प्रदेश में अपनी हार को लेकर बौखलाहट में है जिस कारण वे अनाप शनाप बयान बाजी करने से बाज नही आ रहे हैं।

उक्ताशय की बात जिला काँग्रेस कमेटी के प्रवक्ता जे.पी.एस. तिवारी द्वारा जारी विज्ञप्ति में कही गयी है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री कमल नाथ द्वारा प्रदेश में सरकार बनने के बाद किसानों, व्यापारियों, कर्मचारियों तथा बेरोजगारों सहित गरीब तबके के लिये लगातार कल्याणकारी योजनाएं बना रहे हैं और ये योजनाएं पूरे प्रदेश में क्रियान्वित भी हो रही हैं।

विज्ञप्ति के अनुसार इसके चलते लेकर भाजपाईयों में बेचैनी का माहौल है। इसी बौखलाहट के कारण हताशा में भाजपाईयों के द्वारा अनर्गल आरोप लगाये जा रहे हैं। अखिल भारतीय काँग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राहुल गाँधी के भोपाल आगमन पर किसान आभार सम्मेलन में प्रदेश भर से स्वमेव आयी जनता की भीड़ को देखकर भाजपाई हताश और निराश हैं।

जिला काँग्रेस उपाध्यक्ष व प्रवक्ता जे.पी.एस. तिवारी द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि नैतिकता खो चुके लोग झूठी खबर पर भी नैतिकता की दुहाई दे रहे हैं। ये वही प्रेम तिवारी हैं जिन्होंने एक समय नगर पालिका में खुली लूट मचा रखी थी। 02 प्रतिशत कमीशन इनका फिक्स था, बिना सड़कें नाली बनाये इन्हें भुगतान प्राप्त हो जाता था।

विज्ञप्ति के अनुसार सिवनी शहर को सत्यानाश करने वालों में प्रेम तिवारी का नाम प्रमुखता से लिया जाता है। काँग्रेस पार्टी पर झूठा आरोप लगाकर हजारों की संख्या में जिले से पहुँचे लोगों का जिसमें महिलाएं भी शामिल हैं का अपमान कर रहे हैं। शराब संस्कृति तो जिले में भाजपा की देन है।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में शराबखोरी और जुए के चर्चे आम है। चुनाव के समय जितनी भी शराब जिले में पकड़ायी वह सब भारतीय जनता पार्टी के लोग उसमें शामिल थे। लखनादौन भाजपा कार्यालय में जुआ खेलते हुए, शराब पीते हुए लोग पकड़ाये थे।

उन्होंने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष प्रेम तिवारी काँग्रेस पर आरोप लगा रहे हैं कि भीड़ बढ़ाने के लिये चंदा वसूली की गयी। कोई एक भी व्यक्ति आकर बता दे कि किसी व्यक्ति या अधिकारी से किसी प्रकार को कोई वसूली की गयी हो। यह संस्कृति भारतीय जनता पार्टी की है और इनके घर आज तक चंदा वसूल करके ही चल रहे हैं, यदि जिलाध्यक्ष किसी शासकीय कार्यालय में जाते हैं तो वहाँ के अधिकारी – कर्मचारी समझ जाते हैं कि वे जरूर चंदे के नाम से वसूली पर आये हुए हैं।

विज्ञप्ति के अनुसार वह तो भला हो मध्य प्रदेश के लोगों का कि उन्होंने सही समय पर सरकार को बदल दिया, यदि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में यह जिलाध्यक्ष बनते तो इनका एकसूत्रीय काम सिर्फ चंदा वसूली ही रहता। जहाँ तक शराब बांटने का झूठा आरोप इनके द्वारा लगाया जा रहा है वह बेबुनियाद और निराधार है।

विज्ञप्ति के अनुसार रैली में शामिल होने वालों के लिये जिला काँग्रेस द्वारा भोपाल में स्थानीय कैटर्स को भोजन बनाने से लेकर पैकिंग तक का काम सौंपा गया था चूँकि काँग्रेस के नेताओं और कार्यकर्त्ताओं का पूरा ध्यान पूरा भोजन पर था इसलिये काँग्रेस के नेताओं ने उन खड्डे के डब्बों पर ध्यान नहीं दिया। ध्यान उन लोगों ने दिया है जो हमेशा से रैलियों, चुनाव व पार्टी कार्यक्रमों में शराब बांटते हैं।

विज्ञप्ति के अनुसार वैसे तो इनकी कारगुजारियां अनेक हैं। जिला भाजपा कार्यालय में जो गरीबों का गेहूँ पकड़ाया था वह इनके द्वारा ही चंदे के नाम पर वसूली करके लाया गया था। जिस तरह काँग्रेस पार्टी पर यह झूठा आरोप लगा रहे हैं उससे ऐसा प्रतीत होता है कि यह मुख्यमंत्री कमल नाथ द्वारा एक के बाद एक किये गये वचनों को पूरा किया जा रहा है उससे पूरी तरह संतुष्ट हैं। विपक्ष के नाम पर इनके पास बताने को कुछ बचा नहीं तो ये इस तरह की कहानियां बनाकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं और सिवनी जिले को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे ही लोगों के कारण सिवनी जिला आज विकास विहीन है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *