सिद्धपीठ कलबोड़ी में मनेगी रामनवमीं

होंगे विविध आयोजन
(ब्यूरो कार्यालय)
सिवनी (साई)। माँ आदिशक्ति ज्वाला देवी सिद्धपीठ मंदिर कलबोड़ी तहसील सिवनी में चैत्र नवरात्र पर्व के पावन अवसर पर 407 मनोकामना ज्योति कलशों की स्थापना की गयी है। यह स्थापना सिवनी जिला सहित नेपाल, जम्मू कश्मीर, हाथरस, लखनऊ, फैजाबाद अयोध्या, मुंबई, वाशिम, नागपुर, भण्डारा, गोंदिया, जबलपुर, बालाघाट, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा के श्रद्धालुओं के द्वारा करायी गयी है।
बताया गया है कि मातारानी के दरबार में बाबा दुर्गादासनंद के द्वारा प्रतिदिन दोपहर 02 बजे से कीलों के आसन पर बैठक कर दीन – दुखियों का दुखहरण करने का पुण्य कार्य किया जाता है। प्रतिदिन मातारानी का विशेष श्रृंगार एवं महाआरती भक्तों के द्वारा की जा रही है। ऐसी मान्यता है, कि इस मंदिर में भक्तांे के द्वारा मातारानी से जो भी मनोकामना माँगी जाती है, वह मनोकामना शीघ्र – अति शीघ्र पूर्ण हो जाती है।
बाबा दुर्गादासनंद ने जानकारी देते हुए बताया कि नवमी पूजन रविवार 25 मार्च को दोपहर 12 बजे से प्रारंभ होगा। सर्वप्रथम बाबा द्वारा बबूल के कांटांे पर बैठकर मौन आसन लगाकर भक्तों को मनोकामना भेंट प्रदान करेंगे। इसके पश्चात बाबा द्वारा अपने दोनों हाथों में खप्पर जलाकर मंदिर मे परिक्रमा की जायेगी। तत्पश्चात बाबा द्वारा उबलते तेल मंे हाथ डालकर पुड़ी निकाली जायेगी और अपने बालों को उबलते हुए तेल मंे डालकर अपने शरीर मे उस तेल को लगाया जायेगा, बचा हुआ तेल बाबा द्वारा भक्तों को बाँट दिया जाता है।
बताया जाता है कि बाबा द्वारा किये जा रहे इस चमत्कार से न तो उनके हाथों में और न ही शरीर के किसी भी हिस्से मंे जले होने का कोई निशान आया है, बाबा इसे देवी की महिमा ही बताते हैं। इसके बाद बाबा द्वारा 09 बैलगाड़ियों में छोटी – छोटी कन्याओं को बैठाकर, वे अपने कंधों से बैलगाड़ियों को खींचेंगे। इसके

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *