बनने लगे मोहल्लों के व्हाट्सएप्प समूह

 

चोरी एवं अन्जान लोगों से बचने कोतवाली पुलिस का अभियान

(अय्यूब कुरैशी)

सिवनी (साई)। शहर में चोरियों की तादाद में कमी दर्ज की गयी है। बीते एक पखवाड़े में इक्का – दुक्का स्थानों पर हुईं चोरियों की वारदात के बाद अब चोरियां काफी हद तक कम हो रही हैं। इधर, कोतवाली पुलिस के द्वारा चोरियों को रोकने और अन्जान चेहरों की आमद को रोकने के लिये लोगों को जागरूक करना आरंभ कर दिया गया है।

कोतवाली पुलिस सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि बारापत्थर क्षेत्र, चोरों के निशाने पर सदा से ही रहा है। इसी के चलते बारापत्थर क्षेत्र में रोज ही सघन गश्त की जा रही है। इसके पहले तत्कालीन पुलिस अधीक्षक अवध किशोर पाण्डेय के कार्यकाल में पैदल गश्त करायी जाती थी, फिर भी चोरियों पर अंकुश नहीं लग पाया था।

उक्त संबंध में सूत्रों ने आगे बताया कि नगर कोतवाल अमित विलास दाणी खुद ही देर रात बल्कि तड़के लगभग चार बजे तक गश्त करते हैं और उनके द्वारा रात की गश्त में लगाये गये पुलिस बल की लोकेशन ली जाकर खुद ही मौके पर जाकर तस्दीक भी की जा रही है कि पुलिस बल जिस लोकेशन को बता रहा है उस लोकेशन पर है अथवा नहीं।

सूत्रों ने बताया कि इसके अलावा नगर कोतवाल अमित विलास दाणी के द्वारा एक और पहल आरंभ की गयी है, जिसके तहत उनके द्वारा बारापत्थर क्षेत्र के तीन चार मोहल्लों के सोशल मीडिया व्हाट्सएप्प पर समूह बनवाये गये हैं। इन समूहों में यह निर्देश बार-बार दिये जा रहे हैं कि अगर कोई व्यक्ति सूना घर छोड़कर जाये तो वह समूह को सूचित अवश्य करे ताकि मोहल्ले के अन्य लोग उसके घर पर नजर रख सकें। इसके अलावा पुलिस इस तरह के घरों की विशेष निगरानी भी करती नजर आती है।

इसके साथ ही सूत्रों ने बताया कि कोतवाली पुलिस की इस मुहिम का अच्छा प्रतिसाद सामने आता दिख रहा है। रात के समय बिना काम के घूमने वालों से भी पुलिस के द्वारा सघन पूछताछ की जा रही है। इसके अलावा शहर में बाहर से आकर बिना बताये रहने वाले किरायेदारों के खिलाफ भी पुलिस ने मुहिम आरंभ की है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *