असंगठित श्रमिकों का पंजीयन 01 से 07 तक

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। प्रदेश शासन द्वारा आर्थिक असुरक्षा से जूझते असंगठित श्रमिकों की बेहतरी के लिये एवं उनके बच्चों को बेहतर शिक्षा तथा अन्य सुविधाएं देने के लिये ऐतिहासिक योजनाएं संचालित की हैं। योजनाओं का लाभ देने के लिये श्रमिकों को पंजीकृत किया जायेगा। असंगठित श्रमिकों के पंजीयन 01 से 07 अप्रैल तक किये जायेंगे।

योजना के तहत पंजीकृत किये जाने वाले असंगठित श्रमिकों में कृषि मजदूर, लघु कृषक (ढाई एकड़ तक के भू-स्वामी), घरेलू श्रमिक, फेरी लगाने वाले, दुग्ध श्रमिक, मछली पालक श्रमिक, पत्थर तोड़ने वाले, पक्की ईंट बनाने वाले, गोदामों में काम करने वाले, मोटर परिवहन, हाथकरघा, पॉवरलूम, रंगाई-छपाई, सिलाई, अगरबत्ती बनाने वाले, चमड़े की वस्तुएं और जूते बनाने वाले चर्मकार, ऑटो-रिक्शॉ चालक, आटा, तेल, दाल तथा चावल मिलों में काम करने वाले, लकड़ी का काम करने वाले, बर्तन बनाने वाले, कारीगर, लुहार, बढ़ई फर्नीचर, माचिस एवं आतिशबाजी उद्योग में लगे श्रमिक, प्लास्टिक उद्योग, निजि सुरक्षा एजेंसी में काम करने वाले, कचरा बीनने वाले, सफाईकर्मी, हम्माल – तुलावटी, गृह उद्योग में नियोजित श्रमिक शामिल हैं।

लाभ – योजना में असंगठित श्रमिकों द्वारा पंजीयन कराये जाने पर श्रमिकों को 200 रूपये मासिक फ्लेट रेट पर बिजली, गर्भवती महिला श्रमिक को पोषण आहार के लिये 04 हजार रुपये, प्रसव होने पर महिला के खाते में 12500 रूपये जमा किये जायेंगे। घर के मुखिया श्रमिक की सामान्य मृत्यु पर परिवार को 02 लाख तथा दुर्घटना में मृत्यु पर 04 लाख रूपये की सहायता दी जायेगी।

वहीं हर भूमिहीन श्रमिक को भूखण्ड या मकान, स्वरोजगार के लिये ऋण, साईकिल-रिक्शॉ चलाने वालों को ई-रिक्शॉ और हाथठेला चलाने वालों को ई-लोडर का मालिक बनाने की पहल, बैंक ऋण की सुविधा 05 प्रतिशत ब्याज अनुदान के साथ 30 हजार की सब्सिडी दी जायेगी। श्रमिकों की मृत्यु पर अंतिम संस्कार के लिये पंचायत, नगरीय निकाय से 05 हजार रूपये की नगद सहायता दी जायेगी।

नगरीय क्षेत्रों के असंगठित श्रमिक अपना पंजीयन करवाने के लिये मुख्य नगर पालिका अधिकारी या स्थानीय नगरीय निकाय से संपर्क करेंगे। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्र के असंगठित श्रमिक ग्राम पंचायत अथवा संबंधित जनपद पंचायत से संपर्क करके अपना पंजीयन करवायेंगे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *