अतिक्रमण से बजबजा रहा शहर

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। भारतीय जनता पार्टी शासित नगर पालिका परिषद के द्वारा शहर को व्यवस्थित करने में दिलचस्पी न दिखाये जाने का खामियाजा लोग भुगत रहे हैं। शहर भर में अतिक्रमण बजबजा रहा है और नगर पालिका के द्वारा यदा-कदा अपने अमले के साथ सड़कों पर उतरकर अतिक्रमण हटाने के काम को अंजाम दिया जा रहा है।

शहर की कोई सड़क ऐसी नहीं होगी जहाँ अतिक्रमण पसरा न हो। हर स्थान पर शटर ही शटर दिखायी देते हैं। बिना पार्किंग के नगर पालिका के द्वारा दुकान बनाने की अनुमति कैसे दी जाती रही है, यह भी शोध का ही विषय है। शहर में एक या दो कॉम्प्लेक्स छोड़ दिये जायें तो बाकी के कॉम्प्लेक्स में पार्किंग के लिये स्थान भी नहीं छोड़ा गया है।

लोगों का कहना है कि पूर्व में राजेश त्रिवेदी की अध्यक्षता वाली नगर पालिका परिषद के कार्यकाल की महत्वाकांक्षी मॉडल रोड आज भी आधी-अधूरी पड़ी है। इस सड़क से अभी भी अतिक्रमण नहीं हटाया गया है और पूर्व मुख्य नगर पालिका अधिकारी किशन सिंह ठाकुर के द्वारा लगभग एक साल पहले ही इस सड़क को पूर्णता प्रमाण पत्र (सीसी) जारी कर दिया गया।

मुख्य नगर पालिका अधिकारी नवनीत पाण्डेय के द्वारा शनिवार को नगर पालिका के कर्मचारियों और अधिकारियों के मोबाईल नंबर जारी किये गये हैं। मुख्य नगर पालिका अधिकारी से लोगों ने अपेक्षा व्यक्त की है कि वे ही शहर में निकल जायें और नाले, नालियों के ऊपर बने मकान दुकानों को देख लें तो उन्हें समझ में आ जायेगा कि इसके पहले या उनके कार्यकाल में भी पालिका की कार्यप्रणाली क्या रही है।

तत्कालीन अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बिंद्रा प्रसाद द्विवेदी के द्वारा निर्माण सामग्री का भण्डार बने जनपद पंचायत कार्यालय के बाजू वाले स्थान को खाली करवाया गया था, किन्तु इसके बाद एक बार फिर इस स्थान पर लोगों के द्वारा अतिक्रमण करना आरंभ कर दिया गया है।

मजे की बात तो यह है कि सीएम हेल्प लाईन में इस आशय की शिकायतें करने पर नगर पालिका प्रशासन के द्वारा कहा जाता है कि समय – समय पर अतिक्रमण हटाने का काम किया जाता है, जबकि एक आवेदक के द्वारा स्थान विशेष के अतिक्रमण की शिकायत की गयी है। लोगोें ने इस मामले में जिला कलेक्टर के ध्यानाकर्षण की जनापेक्षा व्यक्त की है।

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *