दसवीं में पास होने जरूरी हैं सब मिलाकर 33 फीसदी अंक

 

सीबीएसई ने जारी की नयी गाईड लाईन

(ब्यूरो कार्यालय)

जबलपुर (साई)। स्कूल परीक्षा में ग्रेड और नंबर वन आने की होड़ के बीच देश के सबसे बड़े शिक्षा विभाग सीबीएसई ने नया रैंकिंग सिस्टम लागू कर दिया है। जिसके बाद अब पास होने वाले छात्र छात्राओं को नयी रैंकिंग के हिसाब से फर्स्ट सेकेण्ड बताया जा सकेगा।

इस निर्णय का जहां एक ओर स्वागत हो रहा है। वहीं कुछ पैरेंट्स विरोध कर रहे हैं। अब 10 वीं बोर्ड में पासिंग मार्क भी निर्धारित कर दिये गये हैं। जो पहले कुछ और थे। सीबीएसई ने 10वीं बोर्ड परीक्षा के पासिंग क्राइटेरिया को लेकर चल रहे असमंजस को दूर करते हुए नोटिफिकेशन जारी किया है।

इसके मुताबिक 10वीं क्लास में स्टूडेंट्स को पास होने के लिये ओवरऑल 33 फीसदी अंक लाने होंगे। इसमें इंटरनल असेस्मेंट और थ्योरी दोनों के नंबर शामिल होंगे। बोर्ड मार्च के पहले सप्ताह में बोर्ड परीक्षा आरंभ करेगा। ऐसे में परीक्षा से पहले यह स्टूडेंट्स के लिये राहत की खबर है।

ग्रेडिंग सिस्टम खत्म होने के बाद यह दूसरा मौका है जब सीबीएसई ने यह पासिंग क्राइटेरिया रखा है। अब इंटरनल और बोर्ड के फाईनल थ्योरी एग्जाम में अलग-अलग पासिंग मार्क्स की अनिवार्यता खत्म हो जायेगी। 20 मार्क्स इंटरनल और 80 मार्क्स की थ्योरी। दोनों में मिलाकर पास होना होगा।

अब 19 मई 2019 को होगा जेईई एडवांस्ड एग्जाम : ज्वॉइंट एंट्रेंस एग्जाम (जेईई) एडवांस्ड 19 मई 2019 को होगी। यह परीक्षा इस बार इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आइआइटी) रूडक़ी करवाएगा। पिछले साल से परीक्षा का आयोजन कम्प्यूटर मोड पर हो रहा है। जेइई मेन रिजल्ट आने के बाद एडवांस्ड के लिये रजिट्रेशन प्रक्रिया आरंभ होगी।

संबंधित जानकारी वेबसाइट पर अपलोड की जायेगी। फिलहाल 2007 से 2018 तक के क्वेश्चन पेपर्स अपलोड किये गये हैं। इन्हें सॉल्व कर स्टूडेंट्स अपनी तैयारी का आंकलन कर सकते हैं। जेइई एडवांस्ड की ऑफिशियल वेबसाइट पर अभी एग्जाम का शेड्यूल जारी किया गया है, जिसमें बताया गया है कि 19 मई को जेईई एडवांस का पेपर-1 सुबह 9 से 12 बजे तक और पेपर-2 दोपहर 02 बजे से 05 बजे तक होगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *