किस तरह का निरीक्षण किया जा रहा औषधि निरीक्षक के द्वारा

 

 

शहर में स्थित अधिकांश मेडिकल स्टोर्स के संचालकों से मुझे शिकायत है। इन मेडिकल स्टोर्स के संचालकों के द्वारा कई ऐसी दवाओं को निर्धारित तापमान पर नहीं रखा जाता है जिसके कि निर्देश दवाओं पर बड़े-बड़े अक्षरों में लिखे होते हैं।

ड्रग इंस्पेक्टर के द्वारा समय-समय पर इन मेडिकल स्टोर्स का निरीक्षण करने की बात बतायी जाती है लेकिन उन्होंने इस बात पर शायद ही कभी गौर किया हो कि बड़े-बड़े मेडिकल स्टोर्स में मात्र एक और वो भी छोटा सा फ्रिज रखा होता है। उस फ्रिज में कितनी दवाएं आती होंगी, इस बात को सहज ही समझा जा सकता है।

यही नहीं बल्कि मेडिकल स्टोर्स के संचालकों ने तो अपने प्रतिष्ठान को एक जनरल स्टोर का भी रूप दे रखा है जबकि दवाओं के साथ अन्य सामग्रियों का संग्रह किये जाने की इजाजत नहीं दी जाती है। ड्रग इंस्पेक्टर के द्वारा किस तरह का निरीक्षण इन दुकानों का किया जाता है कि वहां भारी अनियमितताएं बनी ही रहती हैं।

यदा-कदा किसी कार्यवाही की जानकारी अखबारों में पढ़ने को मिल जाया करती है लेकिन जिन मेडिकल स्टोर्स पर कार्यवाही की जाती है वे यथावत दवाओं का विक्रय करते रहते हैं। ऐसे में क्या समझा जाये कि ड्रग इंस्पेक्टर के द्वारा महज निरीक्षण के नाम पर मेडिकल स्टोर्स के संचालकों पर दबाव बनाकर अपनी जेबें मात्र भरी जा रही हैं, और शहर की जनता के साथ छलावा किया जा रहा है?

अमिताभ श्रीवास्तव

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *