बीएसएनएल की इंटरनेट टेलीफोनी लॉन्च

 

बिना सिम देश-विदेश में किसी भी नंबर पर कॉल फ्री

(रश्मि सिन्हा)

नयी दिल्ली (साई)। सरकारी नवरत्न कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) ने देश में पहली इंटरनेट टेलीफोनी सर्विस लॉन्च की है। इसके जरिये उपभोक्ता बिना सिम के ही देश-विदेश में किसी भी नंबर पर कॉल कर सकेंगे।

बीएसएनएल के मोबाईल एप्प विंग्स के जरिये ये सुविधा मिलेगी। इसे वाई-फाई से ऑपरेट कर सकेंगे। अब तक एप्प टू एप्प कॉलिंग की सुविधा थी, लेकिन अब एप्प से सीधे नंबर पर कॉल कर सकेंगे। इस सेवा के लिये रजिस्ट्रेशन इसी हफ्ते आरंभ होंगे और ये 25 जुलाई से एक्टिवेट हो जायेगी। इसके लिये 1,099 रुपये सालाना फीस होगी जिसमें ग्राहकों को अनलिमिटेड कॉल फैसिलिटी मिलेगी।

दूरसंचार मंत्री मनोज सिन्हा ने बुधवार को इस सर्विस का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि प्रतिस्पर्धा के दौर में बीएसएनएल का ये कदम प्रशंसनीय है। इंटरनेट टेलीफोनी को लेकर भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) के प्रस्ताव को दूरसंचार मंत्रालय ने जून में मंजूरी दी थी।

दूसरे यूजर के पास एप्प होना आवश्यक नहीं : इंटरनेट टेलीफोनी मोबाईल पर इंटरनेट की मदद से कॉल करने की टेक्नोलॉजी है। यह एप्प की मदद से काम करता है। इसमें इंटरनेट प्रोटोकॉल की मदद से कॉल की जाती है इसलिये इसे वॉयस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल (वीओआईपी) तकनीक कहा जाता है।

व्हाट्सएप्प और स्काईप के जरिये कॉलिंग भी इसके उदाहरण हैं, लेकिन दोनों यूजर के पास ये एप्प होने जरूरी हैं। बीएसएनएल के एप्प से कॉलिंग करने पर ये जरूरी नहीं होगा।

इंटरनेट टेलीफोनी में मोबाईल से निकलने वाले एनालॉग सिग्नल यानी वॉइस को डिजिटल डेटा पैकेट के रूप में ट्रान्सफर किया जाता है। ये डेटा पैकेट इंटरनेट की मदद से ट्रान्सफर होते हैं। इस प्रक्रिया में पैकेट ट्रान्सफर के लिये सबसे छोटे रूट को चुना जाता है और डेस्टिनेशन नंबर पर पहुँचते ही ये डेटा पैकेट एनालॉग में कन्वर्ट हो जाते हैं। इंटरनेट टेलीफोनी में मोबाईल नंबर एक वेबसाईट की तरह काम करते हैं। इसमें कॉल करने वाले की पहचान इंटरनेट प्रोटोकॉल (आईपी) एड्रेस की मदद से की जाती है।

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *