मौत के बाद इसलिये कराहने लगता है मृत शरीर

 

 

 

 

अंदर ही अंदर होता रहता है ये सबकुछ

मौत के बाद शरीर का कोई अस्तित्व नहीं होता है। उसे निर्जीव मान लिया जाता है जिसके चलते अन्तिम संस्कार के तहत उस मृत देह को जला दिया जाता है या जमीन में दफना दिया जाता है, लेकिन ऐसा माना जाता है कि इंसान की मृत्यु के बाद भी उसके शरीर के कुछ अंग घंटों जीवित रहते हैं और अपना काम करते रहते हैं। शायद यही वजह है कि मरने के बाद भी कुछ अंगों को दान में दिया जा सकता है।

आइए जानते हैं बॉडी में ऐसे कौन कौन से अंग हैं जो मौत के बाद भी जीवित रहते हैं :

जानकारों के अनुसार मरने के बाद भी इंसान के बाल और नाखून बढ़ते रहते हैं। दरअसल, मरने के बाद त्वचा धीरे-धीरे सख्त होने लगती है और पीछे की ओर खींच जाती है फलस्वरूप नाखून बढ़े हुए लगते हैं और बाल भी बाहर की ओर अधिक निकले हुए दिखाई देते हैं।

जानकारों की मानें तो मौत होने के 24 घंटे तक इंसान की त्वचा की कोशिकाएं जीवित रहती हैं। रक्त संचार बंद हो जाने के कारण मौत के बाद इंसान का दिमाग काम करना बंद कर देता है, लेकिन इसके बावजूद शरीर में ऐसे कई हिस्से होते हैं जहाँ स्नायु संस्थान के सक्रिय होने की संभावना बनी रहती हैं। इसके तहत नर्व ब्रेन को संदेश भेजने के बजाय स्पाइनल कॉर्ड को सिग्नल भेजने लगती हैं जिससे मांसपेशियों में हरकत और ऐंठन दिखाई देने लगती है।

जानकारों के अनुसार मौत होने पर मांस पेशियां सख्त हो जाती हैं जिस वजह से वोकल कॉर्ड्स के अकडने लगते हैं और अजीब तरह की आवाजें सुनाई देती हैं। इसे कभी-कभार लोग भूत प्रेत से जोड़कर देखते हैं जबकि ऐसा बिल्कुल नहीं है। मूत्र उत्सर्जन के काम को इंसान का दिमाग नियंत्रित करता है। दिमाग जब काम करना बंद कर देता है तो यहाँ की मांस पेशियां रिलैक्स हो जाने की वजह से मौत के बाद भी पेशाब निकल जाती है।

जानकार बताते हैं कि इंसान का ह्दय जब शरीर के अंदर खून को रोकता है तो ये सारा खून एक छोटे से एरिया में एकत्रित हो जाता है। मौत के बाद कैलशियम की वजह से झिल्ली पारगम्य हो जाने की वजह से कोशिकाएं उतनी ज्यादा फैल नहीं पाती है जाती है जितना कि आयन (एक मॉलीक्युलर जो इलेक्ट्रिकली चार्ज होता है) बाहर आते हैं। जब ये आयन बाहर आते हैं तो मसल्स सिकुड़ने लगती हैं और शरीर कड़ा होने लगता है और इन चीजों का स्त्राव होने लगता है।

जानकारों की मानें तो ऐसा अकसर देखा गया है कि मौत के बाद गर्भवती महिलाओं का भ्रूण बाहर आ जाता है। दरअसल ऐसा शरीर में गैस बनने और मांसपेशियों के शिथिल हो जाने के चलते ऐसा होता है। मृत्यु के बाद इंसान के अंदर पाचन क्रिया सक्रिय रहती है।

(साई फीचर्स)

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *