शिक्षा विभाग ने दी गीदड़ भभकी!

 

ट्यूशन पर लगाम कसने बनायी समिति

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। नये शैक्षणिक सत्र के आरंभ होने के बाद अब तक निजि शालाओं की मनमानियां रोकने में असफल जिले के शिक्षा विभाग के अधिकारियों के द्वारा अब ट्यूशन पर रोक लगाने के लिये एक समिति का गठन किया गया है। लोग इसे शिक्षा विभाग के अधिकारियों का मुद्दे से भटकाने का प्रयास और गीदड़ भभकी की संज्ञा दे रहे हैं।

जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के द्वारा शासन के निर्देश के अनुसार शासकीय स्कूलों में कार्यरत शिक्षकों को ट्यूशन प्रतिबंधित है। अतः ट्यूशन पर रोक लगाने हेतु शिक्षा विभाग अंतर्गत जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में तैनात एडीपीसी महेश कुमार गौतम को ट्यूशन कन्ट्रोल समिति का जिला समन्वयक नियुक्त किया गया है।

विज्ञप्ति के अनुसार प्रत्येक विकास खण्ड स्तर पर ट्यूशन कन्ट्रोल समिति का गठन किया गया है। गठित समिति आपस में समन्वय स्थापित कर ट्यूशन में लिप्त शासकीय शिक्षकों की पूर्ण जानकारी प्राप्त कर औचक छापामार कार्यवाही करते हुए पंचनामा एवं फोटोग्राफ्स सहित अन्य प्रमाण एकत्रित कर स्पष्ट अभिमत सहित रिपोर्ट जिला समन्वयक को प्रस्तुत किया जायेगा।

उल्लेखनीय होगा कि जिले में निजि शैक्षणिक संस्थाओं के द्वारा गणवेश, फीस, कॉपी किताबों आदि के मामले में पालकों की जेब तराशी अब तक कर ली गयी है। शैक्षणिक सत्र अप्रैल से आरंभ होता है, इसके बाद जून माह में शैक्षणिक सत्र का आगाज किया जाता है।

जुलाई माह का पहला पखवाड़ा बीतने को है, इन परिस्थितियों में कमोबेश हर पालक के द्वारा अपने बच्चे के लिये गणवेश, कॉपी किताबें खरीदी जाकर अब तक अप्रैल मई और जून के साथ ही साथ जुलाई, अगस्त और सितंबर की फीस भी जमा करवायी जा चुकी होगी तब भी शिक्षा विभाग के अधिकारियों के द्वारा अब तक निजि विद्यालय (फीस एवं अन्य मामलों का विनियमन) समिति का गठन तक नहीं किया गया है।

 

अब पाईए अपने शहर की सभी हिन्दी न्यूज (Click Here to Download) अपने मोबाईल पर, पढ़ने के लिए अपने एंड्रयड मोबाईल के प्ले स्टोर्स पर (SAI NEWS ) टाईप कर इसके एप को डाऊन लोड करें . . .

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: