भाजपा नेत्री के पति डॉ.पटेरिया को हटाया जाये : टांक

सीएमएचओ के ईयर मार्क आवास पर जबरिया कब्जा जमाये बैठे हैं डॉ.पटेरिया!
(ब्यूरो कार्यालय)
सिवनी (साई)। भारतीय जनता पार्टी में सत्ता का अहम सिर चढ़कर बोल रहा है। भाजपा की सांसद और विधायक रहीं चर्चित नेत्री श्रीमति नीता पटेरिया के पति डॉ.हरि प्रसाद पटेरिया को सिवनी जिले से हटाये जाने की माँग भाजपा नेता मुनिया टांक ने की है। उन्होंने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को भी इस आशय की एक शिकायत भेजी है।
मुनिया टांक के द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार जिला मुख्यालय में दो दशकों से अधिक समय से पदस्थ डॉ.एच.पी. पटेरिया के द्वारा प्रशासन में अहम पद पर पर रहते हुए भाजपा सरकार के खिलाफ सोशल मीडिया पर टिप्पणी करते हुए प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान के नेत्तृत्व वाली भाजपा सरकार को हटाने की माँग की गयी है, जो शासकीय सेवकों के लिये बनाये गये सिविल सेवा अधिनियम का खुुला उल्लंघन है।
निर्वाचन आयोग को लिखे पत्र में मुनिया टांक ने कहा है कि जिला चिकित्सालय में पदस्थ डॉ.एच.पी. पटेरिया जिले में लगभग दो दशकों से पदस्थ हैं। इनका तबादला होने के बाद भी इन्होंने राजनैतिक पहुँच का लाभ उठाते हुए अपना तबादला निरस्त करवा लिया था।
मुनिया टांक ने अपनी शिकायत में कहा है कि गत दिनों सोशल मीडिया व्हाट्सएप्प और फेसबुक पर इनके द्वारा मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार के खिलाफ टिप्पणी कर सरकार को हटाने की बात कही गयी थी, जो समाचार पत्रों में सुर्खियां बनी थी। उन्होंने कहा है कि डॉ.पटेरिया का यह कृत्य सिविल सेवा आचरण संहिता का खुला उल्लंघन है।
अपनी शिकायत में मुनिया टांक ने आगे कहा है कि महाकौशल विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष श्रीमति नीता पटेरिया के पति डॉ.एच.पी. पटेरिया चूंकि चिकित्सक जैसे महत्वपूर्ण पेशे में सरकारी नौकरी में जिम्मेदार पद पर हैं और चिकित्सकों को भगवान भी माना जाता है अतः वे मतदान प्रभावित करने की स्थिति में हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि डॉ.एच.पी. पटेरिया के द्वारा समय – समय पर सरकार के विरूद्ध टिप्पणी की जाकर अनुशासन हीनता की जाती रही है।
मुनिया टांक ने कहा है कि डॉ.एच.पी. पटेरिया स्थानीय स्तर पर चुनावों को प्रभावित कर सकते हैं, इसलिये इनका तत्काल तबादला किया जाना उचित होगा। स्थानीय स्तर पर सियासी गठबंधनों और सांठ-गांठ के चलते डॉ.एच.पी. पटेरिया का तबादला नहीं हो पाता है। उन्होंने चुनाव आयोग से डॉ.पटेरिया को तत्काल जिले से बाहर स्थानांतरित करने की माँग की है।
इसके साथ ही मुनिया टांक ने आगे कहा है कि डॉ.एच.पी. पटेरिया की पत्नि सांसद और विधायक जैसे जिम्मेदार पदों पर रह चुकीं हैं। वे भाजपा की जिम्मेदार कार्यकर्त्ता हैं, इस लिहाज से नैतिकता के मामले में उनसे कार्यकर्त्ताओं के द्वारा उम्मीद की जाती है। मुनिया टांक ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया से चर्चा के दौरान यह भी कहा कि प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के पद से हटने के बाद डॉ.एच.पी. पटेरिया और भाजपा की नेत्री श्रीमति नीता पटेरिया के द्वारा सीएमएचओ के लिये ईयर मार्क आवास को रिक्त कर दिया जाना चाहिये था, पर वे सालों से इस आवास पर जबरिया कब्जा जमाये बैठे हैं जिससे अच्छा संदेश नहीं प्रसारित हो पा रहा है।

अब पाईए अपने शहर की सभी हिन्दी न्यूज (Click Here to Download) अपने मोबाईल पर, पढ़ने के लिए अपने एंड्रयड मोबाईल के प्ले स्टोर्स पर (SAI NEWS ) टाईप कर इसके एप को डाऊन लोड करें . . .

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

समाचार एजेंसी डॉट कॉम में आपका स्वागत है 

App Downlod Link: Click Here 
App Downlod Link: Click Here 

%d bloggers like this: